);
शाजापुर

पहले चोरी होने से कम हुआ पानी, अब भीषण गर्मी से तेजी से हो रहा वाष्पीकरण

गौरव व्यास।शाजापुर

शाजापुर।शहर के एकमात्र पेयजल स्रोत चीलर डेम का पानी लगातार सिमट रहा है। हालत यह है कि अब नजारा कि सी तालाब की भांति दिख रहा है। चीलर डेम का जलस्तर कम होने के चलते शहर में पेयजल सप्लाय के लिए 24 घंटे ही दो मोटरों से पानी खिंचना पड़ रहा है। इधर गर्मी भी तेज पड़ रही है, ऐसे में चीलर का पानी का वाष्पीकरण भी तेजी से हो रहा है। मई माह के अंत तक जलसंकट गहराने की आशंका पनप रही है।

शहर की 80 हजार आबादी की प्यास बुझाने वाले चीलर डेम में जगह-जगह टीले दिखाई देने लगे हैं। पानी तले तक जा पहुंचा है। अब जलस्तर डेड स्टोरेज में चल रहा है। शहरवासी फिलहाल डेड स्टोरेज का पानी पीने को मजबूर हैं। मानसून समय पर आया तो ठीक नहीं तो काफी मुश्किल होगी।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close