);
अलीराजपुर

बखतगढ भगोरिया मेले मे मप्र एवं गुजरात राज्यो के ग्रामिणो का हुआ संगामय दोनो राज्यो की परंपराओ एवं संस्क्रति का नजारा देखने को मिला

अंतिम दौर के भगोरिया मेले मे ग्रामिणो का जन सेलाब

रफीक कुरैशी। अलीराजपुर
आदिवासी लोकसभ्यता एवं संस्कृति का मश्हुर भगोरिया मेला इन दिनो अंतिम दौर से गुजर रहा है। अंतिम दौर के भगोरिया मेला अपने पुरे शबाब पर है, जिसके चलते मेले मे ग्रामिणो की भारी-भीड उमड रही है। इसी कडी मे मंगलवार को जिले के ग्राम बखतगढ़ एवं आम्बुआ में भगोरिया परंपरानुसार हर्षोउल्लास के बिच मनाया गया। बखतगढ भगोरिया मेले मे मप्र एवं गुजरात राज्यो के ग्रामिणो का संगामय हुआ। यहां पर दोनो राज्यो की परंपरा एवं संस्क्रति का नजारा देखने को मिला। दोनो राज्यो के ग्रामिणो ने मिलजुलकर उत्साहपुर्वक भगोरिया मनाया। कल बुधवार को अंतिम भगोरिया चंादपुर, बरझर और बोरी में मनाया जाएंगा। इसी के साथ भगोरिया मेले का भी समापन हो जाएंगा।
पारंपरिक वेषभुषा मंे सजधज कर आए ग्रामिंणजन
ग्राम बखतगढ़ एवं आम्बूआ मे अलसुबह से भगोरिया मेलास्थल पर झुले-चकरी व तरह-तरह के व्यंजनों एवं अन्य साम्रगियो की दुकाने लगी। दोपहर होते ही मेलास्थल मे लोगो की भारी-भीड उमडना प्रारंभ हो गई और भगोरिया अपने पुरे शबाब पर रहा। ग्रामीणो ने झूले चकरी, कुल्फियां, आईसक्रिम सहित अन्य व्यंजनो का खूब आंनद उठाया। मेले मे युवक-युवतियां कि टोलिया आर्कषक श्रृंगार कर विशेष वेशभुषा मे सुसज्जित होकर मस्ती के साथ उल्लासपूर्वक मनाते हुए नजर आए। युवतियां तो अपनी पारंपरिक वेशभुषा मंे दिखाई दी तो युवक भी अलग अंदाज मे नजर आए। युवतियां आकर्षक परिधान एंव रंग बिरंगे वस्त्रो मे गहनो से सजधज कर भगोरिया मेले मे आई। वही युवा बासुरी एंव मंादलो की थाप और बासुरी की धुन पर मदमस्त होकर कुर्राटियो की कुराट मे झुमते हुए नजर आए। इस दौरान जहां एक और युवक-युवतियां ढ़ोल-मांदल की थाप पर जमकर झुमे वही दुसरी और बूढ़े और बच्चों ने उत्साहपुर्वक भगोरिया मनाया।
विधायक पटेल ने मांदल बजाकर किया परंपराओ का निर्वहन
मेले के चलते क्षैत्रिय विधायक मुकेश पटेल अपने कांग्रेसी नेताआंे एवं कार्यकर्ताओ के साथ ग्राम बखतगढ पहंुचे। जहां पर ग्रामवासियो ने विधायक श्री पटेल का साफा बांधकर उनका सम्मान किया। इस दौरान ग्रामवासियो ने गैर का आयोजन किया, जो मेलास्थल पर पहंुची। इस दौरान विधायक श्री पटेल ने मांदल की थाप देकर और और बासुरी बजाकर ग्रामिणो व कार्यकर्ताओ को जमकर नचाया। श्री पटेल ने ग्रामवासियो को भगोरिया एवं हौली पर्व की शुभकामनाएं भी दी। इस अवसर पर युवा नेता बापु पटेल, सरपंच मोहन भाई, दलसिंह भाई भयडिया, पुर्व सरपंच झमराला भाई, उरसान भाई, सोनु वर्मा, विजय चैहान, वेस्ता भाई, राहुल भयडिया, सुनिल भयडिया, राहुल टकराला, नरु भाई, चतरसिंह भाई, करन भाई, मुकेश आमला, मुकेश चैहान सहित बडी संख्या मे कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे।
विधायक सुश्री भुरिया मांदल पर जमकर थिरकी
ग्राम आम्बुआ मे प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी हजारो की तादाद मे आदिवासी समाज के लोग भगोरिया मेले का ढोल-मांदल की थाप पर परंपरागत नृत्य करते हुवे गैर निकाली। ग्रामिणो ने झुलो, पान सहित अन्य व्यजनो का भी लुप्त उठाया। आम्बुआ भगोरिये मे जोबट विधायक सुश्री कलावती भुरिया कांग्रेसी नेताओ और कार्यकर्ताओ के साथ पहंुची और भगोरिया एवं हौली पर्व की शुभकामनाएं भी दी। इस दौरान मांदल की थाप पर विधायक सुश्री भुरिया जमकर थिरकी। इस अवसर पर उदयगढ ब्लॉक अध्यक्ष कमरू अजनार, नारायणसिह चैहान, नारायण अरोरा, रेमण्डसिह, सुनिल खेडे, अमान पठान, रमेश बघेल, मुस्तफा बोहरा, डॉ. राजेन्द्रसिह राठोर आदि उपस्थित थे।
मतदान के लिए किया जागरुक
मतदान के लिए मतदाताओ को जागरुक बनाने के लिए जनपद पंचायत द्वारा मतदाताओ को अपना मत किस प्रकार करना है। उसकी जानकारी मेले मे एसडीएम सैय्यद असफाक अली, तहसीलदार केएल तिलगाम दे रहे थे। इस दौरान तहसीलदार सुश्री संतुष्टि पाल, सीईओ विरेंद्र सर, केसरसिह चैहान, रामेश्वर गुप्ता, संजय चैधरी, सचिव गिलदार चैहान, पूर्व सरपंच जुवानसिह रावत, बृजेश खण्डेलवाल का सहयोग रहा। भगोरिया को लेकर जिला कलेक्टर शमीमउददीन एवं एसपी विपुल श्रीवास्तव के निर्देश पर जिलेभर से आए पुलिस अधिकारी, महिला पुलिस सहित दल-बल का कानुन व्यवस्था बनाने मे माकुल बंदोबस्त था।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close