);
अलीराजपुर

आदिवासी कर्मचारी अधिकारी संगठन (आकास) ने किया नवनिर्वाचित विधायकों व मंत्रियों का सम्मान, जिला आकास टीम के 25 पदाधिकारियो ने सम्मान समारोह भोपाल में की अपनी सहभागिता

रफ़ीक कुरेशी।अलीराजपुर
प्रदेश के नवनिर्वाचित विधायकों एवं मंत्रियों के स्वागत व सम्मान हेतु आदिवासी कर्मचारी अधिकारी संगठन (आकास) जिला आलीराजपुर द्वारा होटल पलास रेसिडेंसी भोपाल में “सम्मान समारोह” का आयोजन १० जनवरी को किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों द्वारा आदिवासी महान क्रांतिकारी टंट्या भील, महा मानव बिरसा मुंडा एवं संविधान निर्माता डॉ. बाबासाहेब आदि महापुरुषों के चित्रों पर माल्यार्पण कर की गई । पश्चात अतिथियों के स्वागत हेतु नारी शक्ति डॉ राधा डामोर, हेमलता कटारा, उर्मिला खर्ते,चेतना ईकवाले तथा प्रसिद्ध आदिवासी गायक चंपालाल बडोले जी द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया एवं आकास के पदाधिकारियों द्वारा नवनिर्वाचित विधायकों व मंत्रियों को पगडी़ बांधकर व पुष्पहार से स्वागत तथा स्मृति चिन्ह एवं प्रसंशा पत्र देकर सम्मानित किया गया। आकास के अलावा मध्य प्रदेश के आदिवासी समाज के समस्त सामाजिक संगठनों एवं आदिवासी छात्र संगठन के प्रतिनिधियों द्वारा भी नवनिर्वाचित विधायकों व मंत्रियों का स्वागत किया गया।कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों को आकास की वार्षिक पत्रिका भी भेट की गई।
*जनजाति कार्य विभाग का नाम बदलकर आदिवासी विकास विभाग करेंगे*
स्वागत बेला की समाप्ति के बाद सम्मानीय मंत्रियों द्वारा सभा को संबोधित किया गया। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित मध्यप्रदेश शासन के जनजाति कार्य विभाग के मंत्री ओंमकारसिंह मरकाम ने कहा, शिक्षा से समाज समृद्ध हो सकता है , शिक्षा से ही समाज में जन जागृति आएगी इसलिए मरकाम ने “शिक्षित समाज- समृद्ध भारत” का नारा दिया। साथ ही जनजाति कार्य विभाग का नाम बदलकर पुनः “आदिवासी विकास विभाग” करने एवं प्रदेश के सभी आदिवासी छात्रावासों के नामों में भी पुनः आदिवासी शब्द जोड़ने और “9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस” पर शासकीय अवकाश घोषित करने की बात कही । म.प्र. शासन के वन मंत्री उमंग सिंगार ने कहां की आदिवासी संस्कृति अब धीरे-धीरे खत्म होते जा रही है, जल जंगल जमीन खत्म हो रहे, हमें इन्हें जीवित रखना होगा, आदिवासी की पहचान तीर-कमान से होती है, और ये बॉस से बनाई जाती है इस लिए हर घर मे बॉस का पेड़ लगाना चाहिए।ताकि आदिवासी की पहचान बनी रहे। नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल हनी ने कहा- समाज का विकास आदिवासी कर्मचारी अधिकारी संगठन (आकास) के सहयोग के बिना नहीं हो सकता है, जो समाज का काम करेगा हम उनके साथ रहेंगे, समाज की कोई भी ऐसी बात या समस्या हो तो हमें बताइए हम इसे सरकार में रखकर समाधान करने का पूरा प्रयास करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे ग्रह एवं जेल विभाग के मंत्री बाला बच्चन ने कहा हमारी सरकार वचनपत्र के मुताबिक काम करेगी, वचन पत्र में हमारे आदिवासी समाज के लिए जो जो बिंदु शामिल किए गए हैं हम उन्हें पूरा करेंगे। बहुत ही जल्दी प्रदेश में एसटी/एससी के लगभग सवा लाख खाली पड़े बैकलॉग के पदों को भरा जाएगा।साथ ही एसटी/एससी के अधिकारी कर्मचारियों को पदोन्नति में आरक्षण का लाभ मिलता रहेगा। 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान st/sc पर जो प्रकरण दर्ज किये गये थे उन्हैं वापस लिया जाएगा। 9 अगस्त, विश्व आदिवासी दिवस पर प्रदेश स्तर पर शासकीय अवकाश घोषित किया जाएगा एवं इसे हर्षोल्लास के साथ मनाने हेतु सरकार सहयोग प्रदान करेगी।
समाज का अलग-अलग वर्ग से नेतृत्व करने वाले सभी साथी एक मंच पर आए
उक्त कार्यक्रम में 4 मंत्री, 25 विधायक, 5 आई.ए.एस. , 8 आई.एफ.एस.सहित विभाग प्रमुख, डिप्टी कलेक्टर,एडशनल एसपी ,SDM, तहसीलदार, स्पेक्टर ,सब इंस्पेक्टर, डॉक्टर इंजीनियर, वकील आदि सुपर क्लास वन ऑफिसर और 800 से अधिक कर्मचारी अधिकारी तथा लगभग 300 से अधिक सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ता और आदिवासी छात्र संगठन के कार्यकर्ता उपस्थित थे। ऐसा पहली बार देखने को मिला जब आदिवासी समाज का राजनैतिक रूप से नेतृत्व करने वाले जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक रूप से नेतृत्व करने वाले अधिकारी-कर्मचारी और सामाजिक रूप से नेतृत्व करने वाले सामाजिक जन संगठनों के जनप्रतिनिधि एवं आगामी समय मे समाज का भविष्य तय करने वाले विद्यार्थी एक मंच पर आए। इस कार्यक्रम में जबलपुर से के.एस. नेताम साहब (ज्वाईंट डायरेक्टर, एग्रीकल्चर विभाग) को आकास का प्रांतीय महासचिव एवं अमरसिंह रावत को आकास का भोपाल जिला अध्यक्ष नियुक्त किया गया।
आलीराजपुर जिले की टीम
अलीराजपुर आकास अध्यक्ष टी. एस. मंडलोई के नेतृत्व में उपाध्यक्ष केरम जमरा, जिला महासचिव भंगुसिह तोमर, लालसिंह डावर, सुरेंद्रसिंह चौहान, सचिव किशोर मंडलोई, रमेश डावर, जितेंद्र चौहान,जिला मीडिया प्रभारी नितेश अलावा, कोषाध्यक्ष रातनसिंग रावत एवं नवलसिंह कलेश तथा सोण्डवा तहसील अध्यक्ष रायसिंह,आवासीय,महासचिव मुवासिया डावर, वालसिंह खरात, गौतम सस्तिया, वीरेंद्र रावत, सदस्य करसिंह कनेश एवं जोबट से बघेल ने जिले का प्रतिनिधित्व किया। कार्यक्रम में समाज की ओर से प्रतिवेदन आकास के प्रांतीय उपाध्यक्ष आप डी.एस. डोडवे(डीएफओ) साहब ने प्रस्तुत किया । आभार आकास के प्रांतीय महासचिव आप अमरसिंह मोरे साहब (जनरल मैनेजर, उद्योग विभाग, रतलाम) ने माना।
इनका रहा सहयोग
कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए आकास के समस्त प्रान्तीय बॉडी के पदाधिकारी, समस्त जिलों के जिलाध्यक्ष व पदाधिकारी, एवं समस्त सामाजिक संगठनों एवं आदिवासी छात्र संगठन के सभी कार्यकर्ताओं,और प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग प्रदान करने वाले सभी महानुभावों का आकास के प्रांतीय अध्यक्ष आप जगन सोलंकी सर (डिप्टी कमिश्नर इनकम टेक्स विभाग)ब और प्रान्तीय महासचिव आप अमरसिंह मोरे सर (जनरल मैनेजर उद्योग विभाग जिला, रतलाम) ने तहे दिल से धन्यवाद ज्ञापित करते हुवें आभार व्यक्त किया।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close