);
बड़ी खट्टाली

गुणवत्ता विहीन गणवेश का वितरण आजीविका मिशन ने आनन-फानन में बदली ड्रेसे 

बिलाल खत्री।खट्टाली

बड़ी खट्टाली।ग्राम बड़ी खट्टाली प्राथमिक शालाओं में एक से पांचवीं तक के बालक एवं बालिकाओं को गुणवत्ता विहीन गणवेश का वितरण किया गया जब घटिया गणवेश वितरण की जानकारी स्थानीय जनप्रतिनिधियों को प्राप्त हुई तब आनन-फानन में तब डी पी सी विनोद कुमार कोरी ने आजीविका परियोजना द्वारा वितरित की गई गणवेश को इकट्ठा कर बालकों को बदल कर दिलवाने हेतु निर्देशित किया। जिससे पालको में जनाक्रोश ना हो ।जब प्रतिनिधि ने स्कूली छात्रों से जानना चाहा तो उन्होंने बताया कि उन्हें गणवेश वारलु नही अर्थात अच्छी नहीं मिली है इस संबंध में जोबट विधानसभा क्षेत्र की विधायक सुश्री कलावती भूरिया को दूरभाष पर प्रतिनिधि ने बताया तो असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे गणवेश कि मुझे क्षेत्र से निरंतर शिकायतें प्राप्त हो रही है इसके बाद भी प्रशासन आनन-फानन में घटिया गणवेश वितरण परियोजना के माध्यम से करवा रहा है जिसमें भ्रष्टाचार की दुर्गंध आ रही है ।आप ने तत्काल जांच की मांग की ।इस संबंध में बताया कि वे शीघ्र ही प्रदेश के आदिम जाति कल्याण मंत्री ओंकार सिंह मरकाम से भी चर्चा करेंगी एवं अलीराजपुर जिले में गणवेश वितरण में धांधली की जांच कराएगी तथा आजीविका परियोजना की राशि रोकने की भी जिला प्रशासन से मांग की। कुछ आदिवासी बालकों ने बताया कि उन्हें आज तक गणवेश नहीं मिली है इस संबंध में ग्राम पंचायत के प्रतिनिधि एवं जोबट ब्लॉक के सांसद प्रतिनिधि रमेश मेहता ने तत्काल क्षेत्रीय विधायक कलावती भूरिया एवं अमर सिंह उइके को घटिया गणवेश की जानकारी दी व आनन-फानन में बदली गणवेश की जानकारी दी इस संबंध में सांसद को भी मेहता ने क्षेत्र में घटिया गणवेश वितरण की जानकारी दी कुछ पालको ने बताया कि वास्तव में बालक बालिकाओं को बहुत घटिया स्तर की गणवेश का वितरण किया गया है। जो कि इस कड़ाके की ठंड में उपयुक्त नही क्योंकि बच्चो को हाफ पैंट एवं हाफ आस्तीन के शर्ट बाटे गए।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close