);
अपराध

दिल्ली ट्रिपल मर्डर केस: गेम एडिक्ट बेटे ने की थी माता-पिता व बहन की हत्या

दिल्ली ट्रिपल मर्डर केस: गेम एडिक्ट बेटे ने की थी माता-पिता व बहन की हत्या
नई दिल्ली। राजधानी के किशनगढ़ क्षेत्र में दो दिन पहले हुए ट्रिपल मर्डर केस का खुलासा पुलिस ने किया है। हत्यारा बेटा ही निकला जिसने अपने माता-पिता सहित बहन की भी जान ले ली थी। वो रात में कंप्यूटर, मोबाइल पर गेम खेलने का आदी था। पुलिस के अनुसार सूरज वर्मा का ऑनलाइन गेमिंग को लेकर दीवानापन ऐसा हुआ कि उसने अपने माता-पिता और 16 साल की बहन की हत्या ही कर दी। गेम की लत के कारण सूरज पढ़ाई ढंग से नहीं कर पा रहा था। 12वीं के बोर्ड एग्जाम्स में वह एक बार फेल हो चुका था लेकिन पिता मिथिलेश ने पैसा खर्च कर गुरुग्राम के एक प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन करा दिया। वहां भी उसका मन पढ़ाई में नहीं लगता था। चंूकि उसके माता-पिता घर में उसे गेम नहीं खेलने देते थे, इसलिए सूरज और उसके आठ अन्य दोस्तों ने मेहराउली के पास एक बेडरूम का फ्लैट किराए पर ले लिया। इन दोस्तों में उसकी गर्लफ्रेंड के अलावा कॉलेज के तीन दोस्त और साउथ दिल्ली के पड़ोसी दोस्त भी शामिल थे। किराया देने के लिए सभी रुपए मिलाया करते थे।
पुलिस की जांच में पता चला कि सूरज अपने माता-पिता से नाराज रहता था। एक दिन बहन ने सूरज का मोबाइल चेक कर लिया तो उसे फ्लैट के बारे में पता चला और उसने अपने पैरेंट्स को बता दिया। पिता ने सूरज की खूब पिटाई की। इससे सूरज अपने परिवार से बहुत नाराज हो गया और उनसे बदला लेना चाहता था। बुधवार को सोते समय उसने रात करीब 3 बजे माता-पिता सहित बहन की भी हत्या कर दी। जांच के दौरान पुलिस को तब शक हुआ जब सूरज अपने परिवार की मौत के गम में उदास होने की जगह अपने मोबाइल को लेकर अधिक परेशान था। इसके अलावा घर के बाथरूम में खून से सने पैरों के निशान मिले थे। यह भी पाया गया कि घर में कुछ जगहों पर खून के निशान मिटाने की कोशिश की गई थी। सूरज के कपड़े चेक किए तो पाया कि उसने अपने कपड़ों से खून के दाग हटाने की कोशिश की थी। पूछताछ में पहले वो अपने पिता को हत्यारा बताता रहा लेकिन बाद में कबूल किया उसने ही तीनों हत्याएं की हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close