Malwa Live News

VIDEO: नमाजियों पर यहां गोलियां नही चलती…

निमाड़ के सबसे बड़े उर्स में 2 लाख से अधिक श्रद्धालुओ ने की शिरकत, श्रद्धालुओ ने पूरी की अपनी मन्नते

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

20170411_094538सलमान शेख। मालवा LIVE….
किसी भी कौम से हमदर्दियों निभाने को गलत बयान गलत बोलियां नहीं चलती, तुम्हारे मुल्क से अच्छा हमारा भारत नमाजियों पर यहां गोलियां नहीं चलती। मेरठ के इरफान सलीम ने जब ये शेर पढ़ा तो बियाबानी का पूरा मैदान तालियों से गूंज उठा। अवसर था सूफी संत हजरत अब्दुल्ला शाह दाता रेहमतुल्लाह अलैह बियाबानी का 532वें उर्स का।

दूसरे छोर से उत्तराखण्ड के निजाम साबरी ने भी एक से बढक़र एक कलाम पेश किए। इसके बाद प्यारे नबी की शान में नात ए रसूल पेश की। उन्होनें ऐसा माहौल खड़ा कर दिया कि हर आशिकाना रसूल झूम उठा। उन्होनें एकता हमने विरासत में पाई है दुनिया में भाईचारा भी पुरखो से आई है। रिश्ते बहुत पुराने है हम सबके दोस्तो, बेटा अगर सलीम है तो मां जोधाबाई है..शेर सुनाकर महफिल में रंगत ला दी। निजाम साबरी ने कव्वाली में शेर पढ़ते हुए कहा अहले करम बहुत है भरी कायनात में, मेहंदी लगी है मांगने वालो के हाथ में, या खुदा अब न ले तू मेरे गुनाहो का हिसाब, मेरी झोली में मोहब्बत के सिवाय कुछ भी नहीं।

वहीं इरफान सलीम ने एक शेर पढ़ा कि जिनके सब पुजारी हैं नाम कितना प्यारा है, इनके सब पुजारी है नाम कितना प्यारा है। वो खुदा हमारा है, जो खुदा तुम्हारा है, जिसने पूरे माहौल को सांप्रदायिक सौहार्द रंग दिया। कव्वाल पार्टी एक के बाद एक वे कलाम पेश करते चले गए और दाद देने वालों ने भी जमकर नजराना लुटाया। रात 10 से अलसुबह तक श्रोता महफील में डटे रहे।
20170411_105541महफीले रंग के साथ हुआ उर्स का समापन:
इसके बाद मंगलवार को कुल की रस्म के साथ समापन हो गया। दरगाह स्थित महफिल खाने में कुल की महफिल हुई। मंगलवार सुबह महफिल खानें में 09:30 बजे रंग की महफील शुरू हुई, जिसमें निजाम साबरी, इरफान सलीम, अफरोज साबरी ने एक के बाद करकर कलाम पढ़े। कार्यक्रम में जब कव्वाली गाई जा रही थी तो उनके एक-एक कलाम पर नजराना देने के लिए लोग जा रहे थे। दोपहर 1 बजे हजरत अमीर खुसरो द्वारा लिखित आज रंग है री मां रंग है…आज रंग है री सखी अब्दुल्ला शाह बियाबानी के घर आज रंग है, आओ चिश्ती संग खेलें होली दातार के संग की जैसे ही कव्वाल ने पेश की तो पूरा शामियाना इत्र व गुलाब जल की खुश्बू से महक उठा। आस्ताने में कुल की रस्म हुई जिसमें फातेहा पढ़ी जाकर मुल्क में अमन चैन ओर खुशहाली की दुआ की गई।

20170411_094611उर्स कमेटी ने दिया धन्यवाद
उर्स कमेटी के सदर असलम जमींदार, नायब सदर सादिक पहलवान, नौशाद अब्दुल्ला, पार्षद अकबर खान, हकीम पटेल, असलम ठेकेदार, डॉ. जियाउल हक सलाउद्दीन पठान ने जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन सहित सभी कमेटीयो को 532 वे उर्स की मुबारकबाद देते हुऐ उर्स के सफल आयोजन एवं जायरीनों के लिये बेहतर इन्तेजामात और मजहबी रस्मों में साकारात्मक सहयोग के लिये धन्यवाद दिया।
इन्होने दिया भरपूर सहयोग:
उर्स संचालन के लिए डेकारेशन, इस्तकबालिया, मुंतजिम, लंगर कमेटी के साथ मीना बाजार व्यवस्थापक कमेटी बनाई गई थी। वहीं हुसैनी अखाड़ा, करम मोला कमेटी, बाबा फरीद कमेटी, मदनी कमेटी, गरीब नवाज कमेटी के सदस्यो ने उर्स में अपना भरपूर सहयोग दिया। उर्स में श्रद्धालुओ को लाने ले जाने के लिए स्थानीय व क्षैत्र के ट्रक ऑनर ट्रक नि:शुल्क थी
14 तक चलेगा पारंपरिक मेला:
उर्स समापन के बाद पारंपरिक मेला आगामी 14 अप्रैल तक चलेगा। इस वजह श्रद्धालुओ का आने-जाने का सिलसिला चालू रहेगा। इसी को मद्देनजर रखते हुए पुलिस प्रशासन उर्स समापन के बाद भी डटा हुआ है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
sanskar valy school
4

You might also like

Next Genration Media
%d bloggers like this: